Jul 24, 2009

अक्ल की दवा

संता (बंता से)- यार बंता तुम इतनी देर से क्या खा रहे हो?

बंता (संता से)- अक्ल की दवा।

संता- अक्ल की दवा! फिर तो मुझे भी दे दे।

बंता- दो रुपए की है।

संता (रुपए देकर दवा खाते हुए)- अरे यह तो गुड़ है।

बंता- देखा दवा खाते ही अक्ल आ गई।

0 Comments:

Post a Comment

Links to this post:

Create a Link

<< Home